थार मरुस्थल कहां स्थित है - Thar desert in Hindi

थार मरुस्थल जिसे ग्रेट इंडियन डेजर्ट के रूप में भी जाना जाता है। भारतीय उपमहाद्वीप के उत्तर-पश्चिमी भाग में एक बड़ा शुष्क क्षेत्र है। जो 238,254 किमी² के क्षेत्र को कवर करता है। 

यह मरुस्थल भारत और पाकिस्तान के बीच एक प्राकृतिक सीमा बनाता है। यह दुनिया का 20 वां सबसे बड़ा रेगिस्तान हैं और दुनिया का 9 वां सबसे बड़ा गर्म रेगिस्तान है।

थार मरुस्थल कहां स्थित है - Thar Desert
Thar desert in Hindi

थार मरुस्थल की उत्पत्ति एक विवादास्पद विषय है। कुछ इसे केवल 4000 से 10,000 वर्ष पुराना मानते हैं, जबकि अन्य कहते हैं कि इस क्षेत्र में बहुत पहले शुष्कता शुरू हो गई थी। 

थार मरुस्थल संक्षिप्त जानकारी 

  • क्षेत्र - इंडोमालयन
  • बायोम - रेगिस्तान 
  • क्षेत्रफल - 238,254 किमी2 
  • देश - भारत और पाकिस्तान
  • भारत - राजस्थान, गुजरात, हरियाणा, पंजाब
  • पाकिस्तान - पंजाब और सिंधी
  • निर्देशांक - 27°N 71°E 
  • संरक्षण की स्थिति - संवेदनशील
  • संरक्षित - 41,833 किमी² (18%)

थार मरुस्थल कहां स्थित है

थार मरुस्थल भारत के चार राज्यों, पंजाब, हरियाणा, राजस्थान और गुजरात और पाकिस्तान के दो राज्यों सिंध और पंजाब में फैला हुआ है और लगभग 238,254 किमी² के क्षेत्र को कवर करता है।

थार मरुस्थल राजस्थान 

थार मरुस्थल का लगभग 85 प्रतिशत भाग भारत में हैं और लगभग 15 प्रतिशत पाकिस्तान में है। थार मरुस्थल भारत के कुल भौगोलिक क्षेत्र का लगभग 4.56 प्रतिशत है। 60 प्रतिशत से अधिक रेगिस्तान भारतीय राज्य राजस्थान को कवर करता है। 

थार मरुस्थल क्षेत्र में औसत वार्षिक वर्षा 100 से 500 मिमी तक होती है। यह वर्षा बहुत ही अनियमित रूप से वितरित है। ज्यादातर वर्षा जुलाई और सितंबर के बीच होती है। तापमान गर्मियों में न्यूनतम 24 डिग्री सेल्सियस से 26 डिग्री सेल्सियस और सर्दियों में 4 डिग्री सेल्सियस से 10 डिग्री सेल्सियस तक होता है।

थार मरुस्थल में जीवन 

थार मरुस्थल का क्षेत्र रेत के पहाड़ियों और बजरी मैदानों से जुड़े हुए हैं। विविध आवास के कारण इस शुष्क क्षेत्र में वनस्पति और पशु जीवन बहुत समृद्ध है। थार मरुस्थल क्षेत्र में छिपकली की लगभग 23 प्रजातियाँ और साँपों की 25 प्रजातियाँ यहाँ पाई जाती हैं और उनमें से कई जीव केवल इसी क्षेत्र में पाए जाते हैं।

कुछ वन्यजीव प्रजातियां, जो भारत के अन्य हिस्सों में तेजी से लुप्त हो रही हैं। मरुस्थल में बड़ी संख्या में पाई जाती हैं। जिनमें कच्छ के रण में पाया जाने वाला काला हिरण, चिंकारा और भारतीय जंगली गधा शामिल हैं। इतने ऊँचे तापमान में बिना पानी और हरी घास के ये जानवर इन कठोर परिस्थितियों में कैसे जीवित रहते हैं। यह शोध का विषय हैं। 

थार रेगिस्तान के अन्य स्तनधारियों में लाल लोमड़ी और कैरकल की एक उप-प्रजाति शामिल है। भारतीय मोर थार क्षेत्र का निवासी पक्षी है। मोर को भारत के राष्ट्रीय पक्षी और पंजाब के प्रांतीय पक्षी के रूप में नामित किया गया है। इसे राजस्थान के गांवों में खेजड़ी या पीपल के पेड़ पर बैठे देखा जा सकता है।

यहाँ रहने वाले जीवों का आकार विभिन्न परिस्थितियों में रहने वाले अन्य समान जानवरों की तुलना में छोटा होता है। वे मुख्य रूप से निशाचर हैं। शायद यही खूबी इन्हे इस विषम परिस्थिति में जीवित रहने में सहायता प्रदान करते हैं।

रेगिस्तान में इन जानवरों के जीवित रहने के लिए कुछ अन्य कारक भी जिम्मेदार हैं। अधिकतर जानवर अपने भोजन से पानी की आपूर्ति कर लेते हैं। ऊंट जैसे जीव एक बार में बहुत सारा पानी पी जाते है जिसके बाद उन्हें बहुत दिनों तक पानी की जरूरत नहीं होती हैं। 

थार का मरुस्थल की उत्पत्ति

थार मरुस्थल की उत्पत्ति एक विवादास्पद विषय है। कुछ इसे 4000 से 10,000 वर्ष पुराना मानते हैं, जबकि अन्य कहते हैं कि इस क्षेत्र में बहुत पहले शुष्कता शुरू हो गई थी। 

एक अन्य सिद्धांत में कहा गया है कि यह क्षेत्र हाल ही में लगभग 2000 - 1500 ईसा पूर्व के आसपास रेगिस्तान में बदल गया हैं। अभी के समय घग्गर-हकरा एक प्रमुख नदी नहीं हैं और रेगिस्तान में समाप्त हो जाती है लेकिन एक समय में मोहनजोदड़ो के सिंधु घाटी सभ्यता केंद्र के लिए एक जल स्रोत था।

थार मरुस्थल का भूगोल

थार मरुस्थल का उत्तरपूर्वी भाग अरावली पहाड़ियों के बीच स्थित है। यह मरुस्थल उत्तर में पंजाब और हरियाणा तक, पश्चिम में कच्छ के महान रण तक और उत्तर-पश्चिम में सिंधु नदी के जलोढ़ मैदानों तक फैला हुआ है। अधिकांश रेगिस्तानी क्षेत्र विशाल बदलते हुए, रेत के टीलों से आच्छादित है। 

मानसून की शुरुआत से पहले हर साल उठने वाली तेज हवाओं के कारण रेत अत्यधिक विस्थापित होती है। लूनी नदी रेगिस्तान की एकमात्र नदी है। यहाँ वर्षा बहुत कम होती हैं। प्रति वर्ष 100 से 500 मिमी तक वर्षा जून और सितंबर के बीच ही होती है। 

थार मरुस्थल के भीतर खारे पानी की झीले हैं। राजस्थान में सांभर झील, कुचामन झील, डीडवाना झील, पचपदरा झील और फलोदी झील जबकि गुजरात में खाराघोड़ा झील हैं। ये झीलें मानसून के दौरान वर्षा जल प्राप्त करती हैं और शुष्क मौसम के दौरान वाष्पित हो जाती हैं। 

मरुस्थलीकरण नियंत्रण

थार मरुस्थल प्रतिवर्ष 12000 हेक्टेयर से अधिक उपजाऊ भूमि में फैल रहा है और इसे धीरे-धीरे राष्ट्रीय राजधानी नई दिल्ली की ओर 0.5 किमी प्रति वर्ष की दर से आगे बढ़ा रहा है। 

भारतीय मरुस्थल में विशाल स्थानान्तरित रेत के टीले हैं। जो उच्च हवा, दुर्लभ वर्षा और तीव्र सौर विकिरण का परिणाम हैं। 1960 के दशक से मरुस्थलीकरण को रोकने और थार रेगिस्तान की पारिस्थितिक बहाली के लिए जबरदस्त प्रयास किए गए हैं। 

राजस्थान के वन विभाग द्वारा 'ट्री-स्क्रीन' और 'शेल्टर-बेल्ट' वृक्षारोपण के माध्यम से 'स्थानांतरित रेत के टीलों के स्थिरीकरण' और 'सूक्ष्म जलवायु' के निर्माण सहित एक महत्वाकांक्षी कार्यक्रम शुरू किया गया था। पारिस्थितिक बहाली के लिए थार रेगिस्तान में 649 किमी लंबी एक विशाल नहर का भी निर्माण किया गया है।

थार मरुस्थल की मिट्टी वर्ष के अधिकांश समय शुष्क रहती है। इसलिए इसमें हवा के कटाव का खतरा होता है। उच्च-वेग वाली हवाएँ रेगिस्तान से मिट्टी को उड़ाती हैं और कुछ हिस्से को उपजाऊ भूमि पर जमा कर देती हैं। 

इस समस्या का समाधान करने के लिए झाड़ियों और पौधे लगाकर स्थिर किया जाता है। 649 किलोमीटर लंबी इंदिरा गांधी नहर थार रेगिस्तान में ताजा पानी लाती है। इसे रेगिस्तानके विस्तार को रोकने के लिए बनाया गया था।

क्योंकि कुछ स्वदेशी वृक्ष प्रजातियां धीमी गति से बढ़ रही हैं जो रेगिस्तान में रोपण के लिए उपयुक्त हैं। विभिन्न विदेशी वृक्ष प्रजातियों को लगाया गया है। जिसमें नीलगिरी, बबूल की कई प्रजातियां हैं। इज़राइल, ऑस्ट्रेलिया, अमेरिका पाए जाने वाले पेड़ की अन्य प्रजातियां भी शामिल हैं।

थार मरुस्थल की विशेषताएं

थार मरुस्थल एक शुष्क क्षेत्र है जो पश्चिम राजस्थान और गुजरात में स्थित है। कुछ विशेषताओं में शामिल हैं:

  1. इस क्षेत्र में जलवायु बहुत चरम पर होता है। 
  2. दिन में तापमान 50 डिग्री तक पहुंच जाता है।
  3. यह बहुत शुष्क क्षेत्र है। 
  4. थार मरुस्थल के कुछ क्षेत्रों में बहुत कम वर्षा होती है।
  5. इस क्षेत्र में कांटेदार झाड़ियाँ वन शामिल हैं।
  6. यह दुनिया में सबसे अधिक आबादी वाला रेगिस्तानी क्षेत्र है।

भूगोल से जुड़े प्रश्न उत्तर देखने के लिए क्लीक करे - Geography questions in Hindi

Search this blog