बायोगैस किसे कहते है - Biogas Kise Kahate Hain

Post Date : 10 November 2021

बायोगैस एक ज्वलनशील गैसीय मिश्रण है। मिश्रण में मुख्यतया मीथेन तथा को CO2 होती है। बल गैस दस उत्पादन ऐसा पशुओँ तथा मनुष्यो दस मल मूत्र का उपयोग होती है। 

इसमें एक पाचन प्रक्रिया किया जाता है जिसके द्वारा मवेशियों का गोबर मानव मलमूत्र अन्य जानवरों व पक्षियों का मलमूत्र एवं कुछ प्रकार की वनस्पतियो को सड़ाने किण्वन से ज्वलनशील मीथेन गैस एवं उच्च कोटि का खाद दोनों ही वस्तुए एक साथ प्राप्त कि जा सकती है। 

इस सयंत्र में मुख्य रूप से मवेशियों का गोबर उपयोग में लाया जाता है। अतः इसे गोबर गैस सयंत्र भी कहते है , परन्तु आजकल गोबर के अलावा अन्य पदार्थ भी उपयोग में लाए जाते है इसलिए इसे अब बायोगैस सयंत्र खा जाने लगा है।

बायोगैस के गुण

  • 1. बायोगैस मिश्रण में 55-65 % मीथेन तथा 35-40 % CO2 होती है | बांकी अन्य गैसे जैसे हाइड्रोजन सल्फाइड अमोनिया, हाइड्रोजन वाष्प होती है।
  • 2. गैस का अपेक्षित घनत्व 0.9 होता है।
  • 3. गैस उत्पादन के लिए सबसे उपयुक्त तापक्रम 32-42 C होती है।
  • 4. गोबर गैस प्लांट में गोबर तथा जल 1 :1 में डाला जाता है। 
  • 5. इसके लिए सबसे उचित PH मान 7-8 तक होती है।

बायोगैस के लाभ

  • 1. बायोगैस एक नवीनीकरण स्त्रोत है।
  • 2. बायोगैस एक पप्रदूषणरहित ईंधन है क्योंकि यह वातावरण में कार्बन डाई ऑक्साइड को उतसर्जित नहीं करता।
  • 3. बायोमास / बायोगैस में उच्च ऊर्जा दक्षता है।
  • 4. यह एक मुख्य ऊर्जा स्रोत है जो की सम्पूर्ण आर्थिक विकास में मुख्य भूमिका निभा सकती है।
  • 5. बायोगैस से वनो की  कटाई रोकने में सहायता मिलती है।