क्रिया विशेषण की परिभाषा ।-kriya visheshan kee paribhaasha

क्रिया विशेषण- जिस अविकारी शब्द (अव्यय) द्वारा क्रिया की विशेषता का बोध होता है। क्रिया विशेषण कहा जाता है। जैसे- जब, धीरे-धीरे, ऊपर, भीतर, क्यों, कैसे, इतना, भला, नहीं आदि। 

अर्थ के आधार पर क्रिया - विशेषण के चार भेद होते हैं - 

(1) कालवाचक - अभी, एकबार, कब तक, प्रतिदिन। 

(2) स्थानवाचक - अन्दर, ऊपर, नीचे, पीछे। 

(3) रीतिवाचक - शायद, अचानक, कैसे, शीघ्र। 

(4) परिमाणवाचक - अति, इतना, थोड़ा, काफी, कम। 


Subscribe Our Newsletter