खनन किसे कहते हैं - what is mining

Post Date : 12 October 2022

लोहा, हीरा, सोना, चदी और कोयला क्या आपको पता है यह सब कहां से आते हैं। यह सब धरती के अंदर कच्चे माल के रूप में होते हैं। जिसे खोद कर निकाला जाता है। खनिजों को खोद कर निकालने की प्रक्रिया को खनन कहा जाता है।

खनन किसे कहते हैं

खनन पृथ्वी से मूल्यवान खनिजों या अन्य सामग्रियों को निकालने की क्रिया है। कच्चे माल को खदान से निकाल कर उन उधोग तक पहुचाय जाता हैं जहां इन खनिजों से बहुमूल्य वस्तुएँ बनाई जाती हैं।

खनन से प्राप्त अयस्कों में धातु, कोयला, तेल, रत्न, चूना पत्थर, चाक, सेंधा नमक, पोटाश, बजरी और मिट्टी शामिल हैं। अधिकांश सामग्री को प्राप्त करने के लिए खनन की आवश्यकता होती है जिसे कृषि प्रक्रियाओं के माध्यम से नहीं उगाया जा सकता है। खनन में किसी भी गैर-नवीकरणीय संसाधन जैसे पेट्रोलियम , प्राकृतिक गैस और पानी शामिल होते हैं।

खनन गतिविधि के दौरान और खदान के बंद होने के बाद, खनन कार्य से पर्यावरण को बुरा प्रभाव पड़ सकता हैं। इसलिए, दुनिया के अधिकांश देशों ने इस प्रभाव को कम करने के लिए नियम बनाए हैं। 

अक्सर ग्रामीण और दूरस्थ क्षेत्रों के लोगों के लिए व्यवसाय उत्पन्न करने में खनन की भूमिका होती है। सरकारें इस परिस्थिति में नियमों को पूरी तरह से लागू करने में विफल हो सकती हैं। कार्य क्षेत्र में सुरक्षा भी एक चिंता का विषय रहा है। हलाकी आधुनिक मशीनों के उपयोग से खानों में सुरक्षा में काफी सुधार हुआ है।

खनन के प्रकार

खनन तकनीकों को दो सामान्य प्रकारों में विभाजित किया जा सकता है। सतही खनन और भूमिगत खनन। आज सतह खनन बहुत अधिक आम है। उदाहरण के लिए संयुक्त राज्य अमेरिका में 85% खनिजों का उत्पादन करता है। जिसमें 98% धातु अयस्क शामिल हैं।

सतही खनन में नदी की बजरी, समुद्र तट की रेत और अन्य मूल्यवान खनिज शामिल हैं। जहां मूल्यवान खनिज भूमि के बहुत अंदर पाए जाते हैं जो आम तौर पर चट्टान के द्रव्यमान में होते हैं। दुर्लभ तत्वों और यूरेनियम की खनन विशिष्ट तरीकों से किया जाता है, जैसे इन-सीटू लीचिंग इस तकनीक में न तो सतह पर और न ही भूमिगत खुदाई शामिल है। 

इस तकनीक द्वारा खनिजों को निकालने के लिए आवश्यक है कि वे घुलनशील हों, जैसे पोटाश , पोटेशियम क्लोराइड, सोडियम क्लोराइड, सोडियम सल्फेट, जो पानी में घुल जाते हैं। कुछ खनिजों जैसे कॉपर खनिज और यूरेनियम ऑक्साइड की खनन के लिए एसिड या कार्बोनेट समाधान की आवश्यकता होती है।

छोटे पैमाने के खनन में ऐसे उद्यम शामिल हैं जो खनन के लिए श्रमिकों से काम करते हैं। इसमे लोग हाथ के औजारों के साथ काम करते हैं। कई विकासशील देशों में गरीबों के लिए खनन एक महत्वपूर्ण आर्थिक क्षेत्र है।

दबे हुए अयस्क के भंडार तक पहुँचने के लिए सतही वनस्पति, गंदगी और पठारों को हटाकर भूतल खनन किया जाता है।