रासायनिक उद्योग के प्रकार

निर्मित उत्पाद के आधार पर रासायनिक उद्योगों को निम्नांकित वर्गों में रखा जाता है -

1. भारी रसायन उद्योग  – इसके अन्तर्गत वे रासायनिक उद्योग आते हैं, जो मुख्यतः खनिज-निक्षेपों और औद्योगिक उत्पादों पर निर्भर होते हैं । जैसे- नमक का तेजाब, गन्धक का तेजाब, शोरे का तेजाब, कास्टिक सोडा, साबुन, काँच, कागज और सीमेन्ट आदि।

2. पेट्रो-रसायन उद्योग - यह उद्योग मुख्यतः प्राकृतिक गैस, पेट्रोलियम तथा कोयला पर निर्भर करता है। आजकल इस उद्योग का महत्त्व भारी रसायन उद्योग की अपेक्षा अधिक बढ़ गया है। इसके उत्पाद विस्फोटक पदार्थ, उर्वरक, प्लास्टिक, कृत्रिम रेशे और कृत्रिम रबर हैं। इनसे बर्तन, कृत्रिम आभूषण, जूते, नक्शे, डिब्बे, कंघी आदि बनाये जाते हैं।

रासायनिक उद्योग के प्रकार

3. औषधि रसायन उद्योग – इसके अन्तर्गत अनेक पौधों, जड़ों, छालों, पत्तियों आदि से अनेक प्रकार की औषधियाँ बनाई जाती हैं ।

4. अन्य रासायनिक उद्योग — आधुनिक काल में रसायनों द्वारा अनेक प्रकार की वस्तुओं का निर्माण किया जा रहा है, जैसे- सफाई करने वाले पदार्थ, सुगन्धित पदार्थ, प्रसाधन सामग्री, रंग, वॉर्निश, कीटनाशक, खरपतवार नाशक आदि ।

Search this blog