ads

जनसंख्या वृद्धि के कारण बताइए

जनसंख्या वृद्धि ईसा युग के आरम्भ में विश्व की अनुमानित जनसंख्या लगभग 25 करोड़ थी, जो सन् 1650 तक बढ़कर 50 करोड़ अर्थात् दो गुनी हो गयी। पिछले 350 वर्षों में विश्व की जनसंख्या बारह गुना 600 करोड़ हो गयी है।

जनसंख्या वृद्धि के कारण

  1. चिकित्सा होने के कारण मृत्यु दर बहुत घट गई, किन्तु जन्म-दर बाढी हैं। 
  2. औद्योगिक क्रान्ति से रोजगार की अधिक सुविधाएँ बढ़ीं तथा 
  3. कृषि क्षेत्र में उन्नति तथा उत्पादन का बढ़ना आदि।
  4. परिवहन साधनों के विकास ने खाद्य सामग्रियों का वितरण सुनिश्चित किया हैं।
  5. पर्याप्त पोषण आहार की सुलभता के कारण मृत्यु दर घटी हैं।

जनसंख्या वृद्धि में क्षेत्रीय भिन्नता विश्व की जनसंख्या में वृद्धि तो बड़ी तीव्र गति से सम्पन्न हुई, किन्तु यह वृद्धि सर्वत्र समान रूप में नहीं हुई है। इस दृष्टि से विश्व को तीन वर्गों में विभाजित किया जा सकता है।

1. विकसित देश - जिन देशों में औद्योगिक विकास हो चुका है, उन देशों में जनसंख्या वृद्धि सन् 1750 से 1920 तक तीव्र गति से हुई थी, क्योंकि चिकित्सा आदि सुविधाओं के कारण मृत्यु दर बहुत घट गई थी, परन्तु 1920 से अब तक इन देशों में जनसंख्या वृद्धि बहुत घट गई है। ये आस्ट्रेलिया, जापान, कनाडा, संयुक्त राज्य अमेरिका, पूर्व सोवियत संघ एवं यूरोपीय देश हैं। 

जनसंख्या वृद्धि के कारण बताइए

इन विकसित देशों में जनसंख्या वृद्धि दर लगभग 1 प्रतिशत या इससे भी कम है।

2. विकासशील देश - विकासशील देशों में चिकित्सा सुविधाएँ तथा जीवन की अन्य सुविधाएँ बढ़ने के कारण मृत्यु दर तो कम हो रही है, परन्तु अशिक्षा, निर्धनता, मान्यताएँ, परिवार नियोजन कार्यक्रम का प्रचार एवं प्रसार आदि के कम होने के कारण जन्म-दर कम नहीं हो रही है।

अतः इन देशों में जनसंख्या वृद्धि तीव्र गति से हो रही है। यह जनसंख्या वृद्धि दर 2% से 3% तक है । इसके अन्तर्गत एशिया, अफ्रीका, मध्य अमेरिका तथा दक्षिणी अमेरिका के अधिकांश देश आते हैं। जिनमें मुख्य हैं- इजिप्ट, इथोपिया, बांग्लादेश, भारत , पाकिस्तान, इण्डोनेशिया, मैक्सिको और पेरु।

3. अल्प - विकसित देश - इसके अन्तर्गत अफ्रीका व एशिया के अनेक देश आते हैं। इन देशों में शिक्षा का अभाव, वैज्ञानिक ज्ञान का अभाव एवं अन्ध-विश्वासों के कारण जनसंख्या-वृद्धि अत्यन्त तीव्र गति से हो रही है। इन देशों में औसत जनसंख्या वृद्धि 3% से 5% तक है। ये देश नाइजीरिया, घाना, जाम्बिया, कीनिया हैं।

Subscribe Our Newsletter